करोड़पति बनने के लिए 7 आसान टिप्स- बस छोटा सा करना होगा काम

Investment Tips: आपके करोड़पति बनने का ख्वाब पूरा करेंगी ये 7 आसान टिप्स- बस छोटा सा करना होगा काम

Investment Tips: अगर आप अभी से अपने फ्यूचर की चिंता है तो आपके वक्त रहते अपने पैसे बचा लेने चाहिए. इसके लिए बस आपको थोड़ी सी मेहनत करनी पड़ेगी.

How to become Crorepati: पैसा हर किसी को चाहिए, लेकिन इसके लिए अगर समय के साथ फाइनेंशियल प्लानिंग की जाए, तो आपके बेहतर होगा. (How to do Financial Planning) कई ऐसी बड़ी हस्तियां है, जो इन्वेस्टमेंट के जरिए अच्छा कमाकर बड़ा एग्जांपल बनकर सामने आईं हैं. ऐसे में आपको भी बेहतर भविष्य और फाइनेंशियल स्टेबल होने के लिए इन्वेस्टमेंट शुरू कर देनी चाहिए. आज हम आपको 7 ऐसी टिप्स बताएंगे, जिन्हें अपनाकर आप करोड़पति बन सकते हैं.

Income का 10% पर्सेंट करें इंवेस्ट

चाहें आप कम कमाते हो या ज्यादा, आपको अपनी इनकम का 10 पर्सेंट उठाकर इस नए बिजनेस में लगाना होगा. इसमें ये जरूरी नहीं है कि आपकी सैलरी लाखों ही होनी चाहिए. आपकी फिलहाल कितनी भी सैलरी हो, बस आपको कम से कम 10 पर्सेंट तक का इंवेस्टमेंट करना होगा. आप अपने सेविंग्स और खर्चे को पहले एक जगह नोक करके रख लें. इससे होगा ये कि आपको वक्त रहते खुद समझ आ जाएगा कि आप कौन-कौन सा फालतू खर्चा कर रहे हैं. 

Open DEMAT ACCOUNT FREE- ZERODHA
Open DEMAT ACCOUNT FREE- ALICE BLUE

EMI या क्रेडिट कार्ड पेमेंट में कभी देरी न करें

अगर आप अपने पास Credit Card रखते हैं और EMI भी ले रखी है. और इनसे सामान भी लेते हैं, तो इसका बिल समय पर चुकाना बेहद जरूरी है. (Make Credit card payment on time) अगर आप इसका बिल समय पर नहीं चुकाएंगे, तो आपको परेशानियां आ सकती है. हीं क्रेडिट कार्ड (Credit card Bill payment deadline) में मिनिमम बिल पेमेंट के चक्कर में भी न पड़ें. ऐसा करने से आप के बिल में कई तरीके के टैक्स जुड़ जाएंगे और आपकी भुगतान राशि बढ़ती ही चली जाएगी.

Emergency Fund रखें तैयार

इंवेस्टमेंट के तौर पर आप जो भी कुछ लगा रहे हैं, तो आप एक बार साइज हटाकर रख दीजिए. इससे हटर आपके पास एक इमरजेंसी फंड (Emergency Fund) होना चाहिए, जिससे फ्यूचर में आपके सामने कोई मुश्किल आए तो आपको कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए. इंवेस्ट किए गए पैसो को आपको बिल्कुल हाथ नहीं लगाना है. (Prepare an Emergency fund) अगर आप अपने इन्वेस्ट किए गए पैसे में से विदड्रॉ करेंगे तो आपका इंवेस्टमेंट प्लान गड़बड़ा जाएगा और अगर आपने कहीं से लोन लिया तो उसका भुगतान करना भी आपके लिए अतिरिक्त बोझ हो जाएगा.

खर्चों का फंड बनाएं

आपका इंवेस्टमेंट अलग है, इमरजेंसी फंड अलग है और खर्चों का यह फंड एकदम अलग होगा. (Plan your expenses) इसमें आपके आने वाले 4 से 6 महीनों के मंथली खर्चों का फंड बनाना होगा. यह सच बात है कि इतने सारे फंड एक दिन में तैयार नहीं होंगे, लेकिन अगर आप धीरे-धीरे कोशिश करेंगे तो कुछ महीनों में आप ये फंड तैयार कर लेंगे. खर्चों का फंड बनाने से फायदा यह होगा कि आपको पता रहेगा कि आपके कितने खर्चे हैं और आपके पास हमेशा उनके लिए पर्याप्त पैसा रहेगा.

How to check LIC Policy Status ?

निवेश से हुई इनकम को फिर इन्वेस्टमेंट में लगा दें

अगर आपको अपने इंवेस्ट किए हुए पैसे से कोई इनकम हो रही है, जैसे कि आपका कोई फंड मैच्योर (Mature Fund) हुआ है या ट्रेडिंग से आपको कुछ हटकर इनकम मिली है, (Put investment income back into investment) और आपको उस पेसे की अभी जरूरत नहीं है तो उस पैसे को दोबारा इंवेस्टमेंट में लगा दें.

इंवेस्टमेंट प्लान में लगातार निवेश करते रहें

अगर आपने इंवेस्टमेंट करने का पहला कदम उठा लिया है तो रुकें नहीं. यह सच है कि आपको छह महीने या एक साल में रिटर्न नहीं मिलेंगे, लेकिन इसका यह मतलब नहीं है कि आपको कभी रिटर्न नहीं मिलेंगे. (Continue to invest in investment plans) आपको अपने इंवेस्टमेंट प्लान में लगातार निवेश करते रहना होगा. उदास या निराश होकर इंवेस्टमेंट को बीच में छोड़ने से आप बड़ी रकम नहीं बना पाएंगे.

इंवेस्टमेंट Performance को जांचते रहें

यह सबसे जरूरी आदत है, अगर आपने इसे फॉलो नहीं किया तो आपका इंवेस्टमेंट प्लान सफल नहीं हो सकेगा. इंवेस्टमेंट के बाद यह भी जरूरी है कि आप अपने इंवेस्टमेंट पर नजर बनाए रखें. सिर्फ इंवेस्टमेंट कर देने भर से आपकी जिम्मेदारी पूरी नहीं हो जाती है. आपको लगातार देखना होगा कि आपका इंवेस्टमेंट प्लान कैसा चल रहा है. (Keep checking on investment performance) अगर हर छह या आठ महीने पर आपको लगे कि रिटर्न नहीं मिल रहे हैं तो आप किसी और फंड में निवेश करें. साथ ही कभी भी बिना कंपनी का रिव्यू किए या किसी के दबाव में कभी इंवेस्ट न करें, इससे आपका पैसा डूबने के चांस ज्यादा रहते है.

मल्टीबैगर ALERT! – इन्वेस्टर के लिए ट्रेडर के लिए नहीं

LIC DHAN REKHA Plan T-863 latest

एलआईसी धन रेखा (प्लान नंबर 863) – समीक्षा, विशेषताएं और लाभ

एलआईसी वित्तीय वर्ष के बंद होने से कुछ महीने पहले नई बीमा योजनाओं के साथ आता है। इस बार वे थोड़े जल्दी हैं। एलआईसी ने धन रेखा योजना नंबर 863 लॉन्च किया है। एलआईसी का यह नया प्लान गारंटीड एडिक्शन के साथ मनी बैक प्लान है। हाल ही में हमने देखा है कि कई निजी बीमा कंपनियां गारंटीशुदा योजनाओं के साथ आई हैं । अब एलआईसी भी इस मार्ग का अनुसरण कर रही है।
इस लेख में हम एलआईसी धन रेखा योजना विवरण, विशेषताएं, लाभ, निवेश क्यों, नकारात्मक कारक और पूर्ण समीक्षा प्रदान करेंगे।

एलआईसी एजेंट बनने के लिए यहां क्लिक करें

स्टार हेल्थ एजेंट बनने के लिए यहां क्लिक करें

 

एलआईसी धन रेखा योजना संख्या 863 के फीचर्स : –

एलआईसी का धन रेखा योजना 13 दिसंबर, 2021 (स्रोत: परिपत्र) को लॉन्च की गई है। यहां प्रमुख विशेषताएं हैं:

1) यह नॉन लिंक्ड, नॉन पार्टिसिपेंटिंग, इंडिविजुअल, सेविंग्स, मनी बैक प्लान है।
2) इस योजना में 2 लाख रुपये की न्यूनतम राशि का आश्वासन दिया गया है और अधिकतम कोई सीमा नहीं है

3) कोई भी व्यक्ति जो 90 दिनों से 55/60 वर्ष की आयु में है, इस योजना पर विचार करने के लिए पात्र है। नीचे प्रवेश की अधिकतम आयु है।

Single PremiumLimited PremiumTerm
605520
504530
403540

4) पॉलिसी 20, 30 और 40 वर्ष के कार्यकाल के लिए उपलब्ध है।

5) यह योजना एक सीमित प्रीमियम भुगतान योजना (पॉलिसी अवधि के आधे के लिए भुगतान की जाने वाली, या तो वार्षिक, छमाही, त्रैमासिक और मासिक) और एकल प्रीमियम विकल्प के साथ आती है।

6) कार्यकाल के आधार पर 50 रुपये प्रति हजार राशि बीमित राशि के अतिरिक्त की गारंटी है।

7) प्लान ऑनलाइन मोड और ऑफलाइन मोड दोनों में उपलब्ध है। ऑफलाइन मोड के तहत, किसी को एलआईसी एजेंट या एलआईसी शाखा से संपर्क करना होगा और यह प्लान खरीदना होगा।

8) यह योजना तरलता आवश्यकताओं के लिए ऋण सुविधा प्रदान करती है

9) यह सवार के साथ आता है, हालांकि, यह अतिरिक्त प्रीमियम के साथ आएगा।

एलआईसी धन रेखा नीति में गारंटीकृत अतिरिक्त क्या हैं?
गारंटीड अतिरिक्त पॉलिसी अवधि पर निर्भर करता है:

1) 6 से 20 साल का कार्यकाल योजना – 1,000 रुपये की राशि सुनिश्चित करने के लिए 50 रुपये की गारंटी

2) 21 से 30 साल की कार्यकाल योजना – 1,000 रुपये की राशि सुनिश्चित करने के लिए 55 रुपये की गारंटी

3) 31 से 40 साल का कार्यकाल योजना – 1,000 रुपये की राशि सुनिश्चित करने के लिए 60 रुपये की गारंटी

इसका मतलब यह है कि 1 से 5 साल के कार्यकाल के लिए कोई गारंटी वर्धन (GA) नहीं है। यदि आप उच्च बीमा राशि का विकल्प चुनते हैं तो यह जीए प्रति हजार राशि भी बढ़ाएगा।

एलआईसी धन रेखा नीति में लाभ
इसके दो फायदे हैं, यानी मृत्यु लाभ और जीवित रहने के लाभ।

#1 – एलआईसी धन रेखा में मृत्यु लाभ

पॉलिसी धारक की दुर्भाग्यपूर्ण मृत्यु का मामला, बीमित राशि का 125% या वार्षिक प्रीमियम का 7 गुना जो भी अधिक होगा, गारंटीकृत परिवर्धन के साथ भुगतान किया जाएगा, नामांकित व्यक्ति को भुगतान किया जाएगा। इसके बाद पॉलिसी बंद हो जाती है।

#2 – धन रेखा योजना में सर्वाइवल बेनिफिट्स

इस एलआईसी योजना का जीवित लाभ पॉलिसी धारक द्वारा चुना गया योजना की अवधि पर निर्भर करता है।

# 20 साल के कार्यकाल के साथ नीति

i) बीमित राशि का 10% 10वें वर्ष और 15वें वर्ष के अंत में भुगतान किया जाएगा।

ii) प्रथम वर्ष से 5वें वर्ष तक कोई जीए नहीं है।

iii) छठे से 20 वर्ष तक, बीमा राशि के साथ परिपक्वता पर 50 रुपये प्रति हजार राशि का भुगतान किया जाएगा

# 30 साल के कार्यकाल के साथ नीति

i) बीमित राशि का 10% 15वें वर्ष, 20वें वर्ष और 25वें वर्ष के अंत में भुगतान किया जाएगा) पहले वर्ष से 5वें वर्ष तक कोई जीए नहीं है ।

iii) छठे से 20 वें वर्ष तक, परिपक्वता पर 50 रुपये प्रति हजार राशि सुनिश्चित की गारंटी दी जाएगी।

iv) 21 से 30 वें वर्ष तक, बीमित राशि के साथ परिपक्वता पर 55 रुपये प्रति हजार राशि का भुगतान किया जाएगा।

# 40 साल के कार्यकाल के साथ नीति

i) बीमित राशि का 20% 20वें वर्ष, 25वें वर्ष, 30वें वर्ष और 35 वें वर्ष के अंत में भुगतान किया जाएगा

ii) प्रथम वर्ष से 5वें वर्ष तक कोई जीए नहीं है।

iii) छठे से 20 वें वर्ष तक, परिपक्वता पर 50 रुपये प्रति हजार राशि सुनिश्चित की गारंटी दी जाएगी।

iv) 21 से 30 वें वर्ष तक, परिपक्वता पर 55 रुपये प्रति हजार राशि सुनिश्चित की गारंटी दी जाएगी।

v) 31 से 40 वें वर्ष तक, बीमित राशि के साथ परिपक्वता पर 60 रुपये प्रति हजार राशि का भुगतान किया जाएगा।

एलआईसी धन रेखा योजना – एक उदाहरण के साथ समझाया गया
यहां धन रेखा एलआईसी योजना कैसे काम करती है इसका एक उदाहरण है। 30 साल की पॉलिसी अवधि के लिए 10 लाख रुपये की पॉलिसी के लिए नमूना लिया जाता है

Open DEMAT ACCOUNT FREE- ZERODHA

Open DEMAT ACCOUNT FREE- ALICE BLUE

 

 

 

 

 

LIC IPO – UPDATE YOUR PAN AND GET 10% RESERVE QUOTA IN LIC IPO Latest

LIC IPO – UPDATE YOUR PAN AND GET 10% RESERVE QUOTA IN LIC IPO Latest

How to Link Your LIC Policy with PAN to apply for LIC IPO Quota?

Check whether your PAN is linked to your LIC Policy or not. This is important as you can apply to the upcoming LIC IPO only if it is linked successfully.

LIC IPO promises to be the biggest Indian IPO till date with Rs 1 lakh crores estimated. It will surpass the 2nd largest Paytm IPO which was of around Rs 18k crores. The LIC IPO opening date is not announced yet, but it is believed to be coming in a few months time.

Link PAN to LIC Policy to Apply for LIC IPOLife Insurance Corporation of India recently declared that if LIC Policy holders (under LIC Policy Reserved Quota) want to apply for the LIC IPO  then they will have to compulsorily link their PAN with their existing LIC policies. The LIC Policy Quota reserves upto 10% shares to opt for out of the complete LIC IPO issue size.

The reason for this LIC PAN Linking is Validation (Demat Account), e-KYC, and all other service aspects related to LIC. You can get all the details of the LIC IPO here.

If you have LIC Policies and want a share in the LIC IPO, but don’t have a demat account then you won’t be able to apply. Thus, Apply a DEMAT ACCOUNT Now -ALICE BLUE or DEMAT ACCOUNT -ZERODHA  which gets created in minutes these days. You can also apply for the LIC IPO without having an LIC Policy, but your chances to get allotment will be lesser comparatively.

OPEN DEMAT ACCOUNT  – ALICE BLUE

OPEN DEMAT ACCOUNT – ZERODHA

LINK YOUR PAN  ONLINE IN POLICY- LIC PAN LINK

ONLINE CHECKING POLICY PAN STATUS – LIC PAN STATUS

Steps to Link Your LIC Policies with PAN for LIC IPO Application

1. Visit this LIC PAN Link to check if your PAN is linked to your policy or not.

2. Here, you need to provide your policy number, date of birth, and PAN number.

3. After clicking “Submit” if you get a ‘PAN not registered’ message then you need to move ahead for linking PAN with LIC Policy else you can opt-out.

4. Now, click on the above button (click here) to proceed further.

5. A new form will open asking for your DOB, gender, email, PAN, full name, mobile number (which is registered with your LIC policy), and policy number.

6. After filling it you need to tick a self-declaration check box, enter CAPTCHA, and click on “Get OTP”.

7. Enter the OTP received on your registered mobile number. It will also show the details provided by you on the top so that you can recheck before proceeding ahead.

8. That’s it! You will receive an acknowledgement message such as the one shown below.

This was all about PAN linking to LIC Policy. You can also checkout the Latest IPO News for updates on the upcoming IPOs in December 2021.

 

LIC सरल पेंशन योजना – प्लान 862

LIC सरल पेंशन योजना – प्लान 862

1. परिचय (Introduction):

यह एक मानक तत्काल वार्षिकी योजना के दिशा निर्देशों के अनुसार है भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (आईआरडीएआई), जो सभी जीवन बीमा कंपनियों में एक ही नियम और शर्तें प्रदान करता है ।
• पॉलिसीधारक के पास दो से वार्षिकी के प्रकार का चयन करने का विकल्प है, एकमुश्त राशि के भुगतान पर उपलब्ध विकल्प।
• पॉलिसी की शुरुआत में वार्षिकी दरों की गारंटी दी जाती है और वार्षिकियां वार्षिकी के जीवन काल में देय हैं।
————————

वार्षिकी विकल्प Annuity Options:

इस योजना के तहत उपलब्ध वार्षिकी विकल्प के रूप में कर रहे हैं:

विकल्प I: खरीद मूल्य के 100% की वापसी के साथ जीवन वार्षिकी।


विकल्प II: संयुक्त जीवन अंतिम उत्तरजीवी वार्षिकी 100% की वापसी के साथ
अंतिम उत्तरजीवी की मृत्यु पर खरीद मूल्य। वार्षिकी विकल्प एक बार चुना नहीं बदला जा सकता है
————————–

लाभ Benefits:

उपरोक्त विकल्पों के तहत देय लाभ

Option- 1 – a) फिक्स पेंशन जिंदगी भर मिलता रहेग। जो आपने ऑप्शन लिया है। Monthly, Quarterly, Half Yearly or Yearly
b) पालिसी धारक के मृत्यु पर, पेंशन भुगतान बंद हो जाएगा तुरंत 100% पैसा नामांकित व्यक्ति (ओं) /कानूनी उत्तराधिकारी देय होगा। 

Option 2- a) फिक्स पेंशन जिंदगी भर मिलता रहेग। जो आपने ऑप्शन लिया है। Monthly, Quarterly, Half Yearly or Yearly |आपके नहीं रहने पर वही पेंशन                               राशि आपके पत्नी को जिंदगी भर मिलेगा
b) दोनों पालिसी धारक के नहीं रहने पर पेंशन भुगतान बंद हो जाएगा तुरंत 100% पैसा नामांकित व्यक्ति (ओं) /कानूनी उत्तराधिकारी देय होगा। 
—————————–

Eligibility Criteria:पात्रता मानदंड:

i.प्रवेश पर न्यूनतम आयु: 40 वर्ष (पूर्ण)
ii.प्रवेश पर अधिकतम आयु: 80 वर्ष (पूर्ण)

  • कम से कम पेंशन कितना होना चाहिए
    मासिक        –  1000
    त्रि मासिक   –  3000
    छमाही        –  6000
    सालाना      –  12000
  • Maximum Purchase Price: No Limit

नोट:
1) संयुक्त पेंशन , यानी विकल्प द्वितीय, जीवनसाथी के साथ ही लिया जा सकता है।
2) संयुक्त पेंशन विकल्प के लिए, पति या पत्नी की उम्र भी न्यूनतम प्रवेश आयु के अधीन (i) और अधिकतम प्रविष्टि में निर्दिष्ट
ऊपर (ii) होना जरुरी है।
———————————-

LIC सरल पेंशन योजना – प्लान 862

पेंशन भुगतान का तरीका:

उपलब्ध पेंशन वार्षिक, छमाही, त्रैमासिक, और मासिक में देय होगी
भुगतान 1 वर्ष, 6 महीने, 3 महीने और 1 महीने के बाद आप फिक्स कर सकते है।

उदाहरण के लिए
आप चाहते है की पालिसी आज ले लू और पेंशन एक साल के बाद शुरू हो, तो आप ऐसा कर सकते है, उससे आपको इंट्रेस्ट कुछ ज्यादा मिलेगा।

इस योजना के तहत निम्नलिखित प्रोत्साहन उपलब्ध हैं:

i. अगर आप हायर अमाउंट की पालिसी करते है तो आपको पेंशन इंट्रेस्ट ज्यादा मिलेगा। जिसका चार्ट निचे दिया है

उदाहरण:

आप 10 लाख पेंशन के लिए जमा करना चाहते है और आपकी उम्र 60 साल है। पत्नी की उम्र 55 साल है

Option 1- फिक्स पेंशन जिंदगी भर Rs.51650/-
Option 2- फिक्स पेंशन जिंदगी भर Rs. 51150/-
——————-

सरेंडर वैल्यू- Surrender Value:

पॉलिसी से छह महीने के बाद किसी भी समय आत्मसमर्पण किया जा सकता है। लेकिन सरेंडर केवल गंभीर बीमारियों के होने पर ही करवा सकते है।
मैक्सिमम सरेंडर अमाउंट 95 % दिया जायेगा, लेकिन अगर लोन लिया है तो उसको हटा कर बाकि जितना बचा होगा।
————————-

Policy LOAN- 

1-पॉलिसी ऋण – पालिसी लेने की तारीख से छह महीने के बाद किसी भी समय ले सकते है।
2-पॉलिसी के तहत दिए जा सकते हैं कि ऋण की अधिकतम राशि ऐसी होगी राशि 50% से अधिक नहीं है
3-1 मई से शुरू होने वाली 12 महीनों की अवधि के दौरान स्वीकृत ऋण के लिए, 2021 से 30 अप्रैल, 2022 तक लागू ब्याज दर 8.44% प्रति के लिए प्रभावी होगा।
————————-

टैक्‍स- TAX
इनकम टैक्स आपके इनकम स्लैब के अनुसार होगा।
————————-

फ्री लुक पीरियड:- Free Look Period:
आप पालिसी लेने के 15 दिन के अंदर पालिसी कैंसिल कर सकते है। अगर आपने ऑनलाइन लिया है उसे 30 दिन का समय मिलता है।
————————

नकली फोन कॉल और फर्जी से सावधान रहें/ धोखाधड़ी की पेशकश IRDAI बीमा पॉलिसियों को बेचने, घोषणा करने जैसी गतिविधियों में शामिल नहीं है प्रीमियम का बोनस या निवेश। सार्वजनिक इस तरह के फोन कॉल प्राप्त कर रहे है पुलिस के अनुरूप मुकदमा दर्ज करने का अनुरोध किया।

एलआईसी की बीमा श्री – योजना संख्या: 948, Guaranteed Returns in Policy.

एलआईसी का बीमा श्री प्लान सुरक्षा और बचत का संयोजन प्रदान करता है। इस योजना के लिए विशेष रूप से बनाया गया है
उच्च निवल मूल्य वाले व्यक्ति। यह योजना दुर्भाग्यपूर्ण होने के मामले में परिवार के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करती है
पॉलिसी अवधि के दौरान पॉलिसीधारकों की मृत्यु। समय-समय पर भुगतान भी किया जाएगा
पॉलिसी अवधि के दौरान निर्दिष्ट अवधि पर पॉलिसीधारक और जीवित लोगों को एकमुश्त भुगतान
परिपक्वता के समय पॉलिसीधारक। इस प्लान में लोन फैसिलिटी के जरिए लिक्विडिटी की जरूरतों का भी ध्यान रखा गया है।

प्रीमियम भुगतान मोड
प्रीमियम भुगतान के तरीके वार्षिक, छमाही, त्रैमासिक, और मासिक (केवल एनएसीएच के माध्यम से) या वेतन कटौती (एसएसएस) के माध्यम से हैं।

प्रवेश पर न्यूनतम आयु: 8 वर्ष (पूर्ण)
अधिकतम प्रवेश आयु: पॉलिसी अवधि के लिए 55 वर्ष (एनबीडी) 14 वर्ष
पॉलिसी अवधि के लिए 51 वर्ष (एनबीडी) 16 वर्ष
पॉलिसी अवधि के लिए 48 वर्ष (एनबीडी) 18 वर्ष
पॉलिसी अवधि के लिए 45 वर्ष (एनबीडी) 20 वर्ष
परिपक्वता पर आयु: पॉलिसी अवधि के लिए 69 वर्ष (एनबीडी) 14 वर्ष
पॉलिसी अवधि के लिए 67 वर्ष (एनबीडी) 16 वर्ष
पॉलिसी अवधि के लिए 66 वर्ष (एनबीडी) 18 वर्ष
पॉलिसी अवधि के लिए 65 वर्ष (एनबीडी) 20 वर्ष
पॉलिसी अवधि: 14, 16, 18, 20 वर्ष
प्रीमियम भुगतान अवधि: (पॉलिसी अवधि कम – 4) वर्ष
न्यूनतम मूल राशि सुनिश्चित: 10,00,000 रुपये
अधिकतम मूल राशि सुनिश्चित: कोई सीमा नहीं

Also Read:
1 -LIC जीवन शांति पॉलिसी में एकमुश्त निवेश कर पा सकते हैं हर महीने 4 लाख रुपये पेंशन, जीवनभर मिलता रहेगा फायदा
2 -LIC Jeevan Labh पॉलिसी में रोजाना 280 रुपये का निवेश कर, पाएं 20 लाख, जानें क्या है ये पूरा प्लान
——————————————————————————————————

नीतिगत लाभ:

एक इनफोर्स पॉलिसी के तहत देय लाभ इस प्रकार हैं:

मृत्यु लाभ
>पहले पांच वर्षों के दौरान मृत्यु पर: अर्जित गारंटी के साथ “मृत्यु पर बीमा राशि”
अतिरिक्त देय होगा।

>पांच पॉलिसी वर्ष पूरे होने के बाद मृत्यु पर लेकिन परिपक्वता की तारीख से पहले: “राशि
मौत पर आश्वासन दिया “साथ अर्जित गारंटीकृत परिवर्धन और लॉयल्टी एडीशन, यदि कोई हो, देय होगा।

“मौत पर आश्वासन दिया राशि” के उच्च के रूप में परिभाषित किया गया है:

>वार्षिक प्रीमियम का 7 गुना या
>125% बेसिक सम एश्योर्ड

यह मृत्यु लाभ (जैसा कि ऊपर परिभाषित किया गया है) कुल प्रीमियम के 105% से कम नहीं होगा
(करों, अतिरिक्त प्रीमियम और राइडर प्रीमियम को बाहर करें, यदि कोई हो) मृत्यु की तारीख के अनुसार भुगतान किया जाता है।

सर्वाइवल बेनिफिट
पॉलिसी अवधि के दौरान प्रत्येक निर्दिष्ट अवधि के लिए जीवित रहने का आश्वासन दिया गया जीवन पर, एक निश्चित
मूल बीमा राशि का प्रतिशत देय होगा। विभिन्न नीतिगत शर्तों के लिए निर्धारित प्रतिशत है
नीचे के रूप में:
1. पॉलिसी अवधि के लिए 14 साल: 10 वीं और 12 वीं पॉलिसी की सालगिरह में से प्रत्येक पर मूल राशि का 30% आश्वासन दिया
2. पॉलिसी अवधि के लिए 16 साल: 12 वीं और 14 वीं पॉलिसी की सालगिरह में से प्रत्येक पर बुनियादी राशि का 35% आश्वासन दिया
3. पॉलिसी अवधि के लिए 18 वर्ष: 14 वीं और 16 वीं पॉलिसी वर्षगांठ में से प्रत्येक पर मूल राशि का 40% आश्वासन दिया गया
4. पॉलिसी अवधि के लिए 20 साल: 16 वीं और 18 वीं पॉलिसी वर्षगांठ में से प्रत्येक पर मूल राशि का 45% आश्वासन दिया गया

परिपक्वता लाभ
पॉलिसी अवधि के अंत तक जीवित रहने का आश्वासन दिया जीवन पर, “परिपक्वता पर आश्वासन दिया राशि” साथ
इसके साथ गारंटीकृत अतिरिक्त और लॉयल्टी अतिरिक्त, यदि कोई हो, देय होगा। जहां “बीमा राशि
परिपक्वता पर “के रूप में है:

1. पॉलिसी अवधि के लिए 14 साल: मूल राशि का 40% आश्वासन दिया
2. पॉलिसी अवधि के लिए 16 साल: मूल राशि का 30% आश्वासन दिया
3. पॉलिसी अवधि के लिए 18 वर्ष: मूल राशि का 20% आश्वासन दिया
4. पॉलिसी अवधि के लिए 20 साल: मूल राशि का 10% आश्वासन दिया

गारंटीड एडिक्शन
बशर्ते पॉलिसी लागू हो, 50 रुपये प्रति हजार बेसिक योग की दर से गारंटीकृत अतिरिक्त
पहले पांच वर्षों के लिए आश्वासन दिया और 55 रुपये प्रति हजार मूल राशि 6 पॉलिसी वर्ष से आश्वासन दिया
प्रीमियम भुगतान अवधि के अंत तक प्रत्येक पॉलिसी वर्ष के अंत में प्राप्त होगा जिसके लिए पूरे वर्ष का
प्रीमियम का भुगतान कर दिया गया है। यदि प्रीमियम का विधिवत भुगतान नहीं किया जाता है, तो गारंटीकृत अतिरिक्त बंद हो जाएंगे
किसी नीति के तहत अर्जित करना।

वैकल्पिक राइडर लाभ
इस योजना के तहत निम्नलिखित चार वैकल्पिक राइडर उपलब्ध हैं। हालांकि, पॉलिसीधारक विकल्प चुन सकते हैं
एलआईसी की एक्सीडेंटल डेथ और डिसेबिलिटी बेनिफिट राइडर या एलआईसी की दुर्घटना के बीच
लाभ राइडर. इसलिए, एक पॉलिसीधारक इस योजना के तहत अधिकतम तीन राइडर्स का विकल्प चुन सकता है।

1. एलआईसी की एक्सीडेंटल डेथ एंड डिसेबिलिटी बेनिफिट राइडर यूइन (512B209V02)
2. एलआईसी का एक्सीडेंट बेनिफिट राइडर यूइन (512B203V03)
3. एलआईसी का नया टर्म एश्योरेंस राइडर (यूइन 512B210V01)
4. एलआईसी की नई क्रिटिकल इलनेस बेनिफिट राइडर (यूइन 512A212V01)
5. एलआईसी प्रीमियम छूट लाभ राइडर (यूईन: 512B204V03)

पॉलिसी लोन
कम से कम दो पूरे वर्षों के लिए प्रीमियम के भुगतान के बाद, इस योजना के तहत ऋण सुविधा उपलब्ध है,
नीति में उल्लिखित कुछ शर्तों के अधीन।

TAX
वैधानिक कर, यदि कोई हो, भारत सरकार या किसी अन्य द्वारा ऐसी बीमा योजनाओं पर लगाया गया
भारतीय संवैधानिक कर प्राधिकरण कर कानूनों और कर की दर के अनुसार लागू होगा
समय-समय पर।

 

रोजाना 129 रुपये का निवेश कर पास सकते हैं 66 लाख रु की मोटी रकम – LIC JEEVAN ANAND -Table -915

यह एक एंडोमेंट पॉलिसी है लिहाजा इसमें निवेश और बीमा दोनों का लाभ पॉलिसीधारक को मिलता है। इस पॉलिसी में रिस्क कवर भी दिया जाता है। पॉलिसी की मैच्योरिटी पर सम एश्योर्ड के साथ अन्य लाभ भी दिए जाते हैं। “,

“LIC Jeevan Anand policy: लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एलआईसी) देश की सबसे भरोसेमंद बीमां कंपनियों में से एक है। इस कंपनी का संचालन सरकार देखती है इस वजह से लोगों का इस पर भरोसा है। करोड़ों लोगों ने एलआईसी की अलग-अलग पॉलिसी में निवेश किया हुआ है। एलआईसी ग्राहकों को अलग-अलग पॉलिसी ऑफर करती है।

ये पॉलिसी कुछ इस तरही से डिजाइन का जाती हैं जिनमें गरीब से लेकर अमीर तबते के व्यक्ति निवेश कर सकें। यूं तो एलआईसी की अलग-अलग पॉलिसी हैं लेकिन आज हम आपको एलआईसी की जीवन आनंद पॉलिसी के बारे में बताएंगे।

कंपनी की इस पॉलिसी में आप रोजाना 129 रुपये का निवेश कर 66 लाख रु की मोटी रकम हासिल कर सकते हैं। इसके साथ यह पॉलिसी आपको लाइफ टाइम 15,00,000 रुपये का रिस्क कवर भी मुहैया करती है। यह एक पार्टिसिपेटिंग गैर-लिंक्ड पॉलिसी है जो निवेशकर को सुरक्षा और बचत मुहैया करवाती है। इस पॉलिसी में रिस्क कवर भी दिया जाता है। पॉलिसी की मैच्योरिटी पर सम एश्योर्ड के साथ अन्य लाभ भी दिए जाते हैं। यह एक एंडोमेंट पॉलिसी है लिहाजा इसमें निवेश और बीमा दोनों का लाभ पॉलिसीधारक को मिलता है।

पॉलिसी 15 से 35 साल टर्म के साथ आती है। 18 से 50 वर्ष तक का कोई भी व्यक्ति पॉलिसी में निवेश करने के लिए पात्र है। न्यूनतम सम एश्योर्ड एक लाख रुपये और अधिकतम सीमा निर्धारित नहीं है।

Also Read:
1 -LIC जीवन शांति पॉलिसी में एकमुश्त निवेश कर पा सकते हैं हर महीने 4 लाख रुपये पेंशन, जीवनभर मिलता रहेगा फायदा
2 -LIC Jeevan Labh पॉलिसी में रोजाना 280 रुपये का निवेश कर, पाएं 20 लाख, जानें क्या है ये पूरा प्लान

——————————————————————————————————

अब सवाल यह है कि इस पॉलिसी में आप रोजाना 129 रुपये का निवेश कर कैसे 66 लाख रुपये हासिल कर सकते हैं?

इसे हम एक उदारहरण से समझने की कोशिश करेंगे:-

उम्र: 27
टर्म: 33
एडीडीएबी: 1500000
डेथ सम एश्योर्ड: 1875000
बेसिक सम एश्योर्ड: 1500000

फर्स्ट ईयर प्रीमियम 4.5 फीसदी टैक्स के साथ –

वार्षिक: 48326 (46245 + 2081)
अर्धवार्षिक: 24426 (23374 + 1052)
त्रैमासिक: 12345 (11813 + 532)
मंथली: 4115 (3938 + 177)
वाईएलवाई मोड औसत प्रीमियम/प्रतिदिन: 132

फर्स्ट ईयर प्रीमियम भरने के बाद घटे हुए टैक्स के साथ –

वार्षिक: 47286 (46245 + 1041)
अर्धवार्षिक: 23900 (23374 + 526)
त्रैमासिक: 12079 (11813 + 266)
मंथली: 4027 (3938 + 89)
वाईएलवाई मोड औसत प्रीमियम/प्रतिदिन: Rs.129 Daily Only

कुल अनुमानित देय प्रीमियम: 1,56,1478 रुपये

मैच्योरिटी के समय कुल अनुमानित रिटर्न:

सन एश्योर्ड: 1500000
बोनस: 24,25,500
फाइनल एडिशनल बोनस: 27,00,000
मैच्योरिटी के समय कुल अनुमानित रिटर्न: 6625500 और लाइफ टाइम 15,00,000 रुपये का रिस्क कवर

मान लीजिए अगर कोई व्यक्ति 27 साल की उम्र में इस पॉलिसी में निवेश करना शुरू करता है। और वह 33 साल टर्म प्लान के साथ 1500000 सम एश्योर्ड प्लान को फिक्सड करता है तो इस लिहाज से उसे रोजाना 129 रुपये का निवेश करना होगा। इस तरह कुल 33 साल निवेश करने के बाद पॉलिसीधारक को 15,00,000 रुपये का एसए, 24,25,500 का बोनस और 27,00,000 रुपये फाइनल एडिशनल बोनस के रूप में मिलेंगे। इस तरह मैच्योरिटी के समय यानी 60 साल की उम्र में पॉलिसीधारक को कुल 66,25,500 रुपये मिलेंगे। वहीं पॉलिसी अवधि के दौरान किसी अनहोनी के चलते परिवार को 15,00,000 रुपये का रिस्क कवर की गारंटी तो मिलती है।”,

पॉलिसी में रोजाना 56 रुपये का निवेश कर पाएं 23 लाख रुपये, जानें पूरी स्कीम – LIC JEEVAN UMANG

LIC Jeevan Umang: लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन (एलआईसी) में निवेश करना लोगों को कई तरह से फायदा देता है। एलआईसी देश की सबसे भरोसेमंद इंश्योरेंस कंपनी है। एलआईसी पर निवेशकों का यह भरोसा इसलिए है क्योंकि यह सरकार द्वारा संचालित कंपनी है। गरीब से लेकर अमीर वर्ग ने एलआईसी की पॉलिसी में निवेश किया हुआ है। एलआईसी अपनी पॉलिसी समय, जरूरत और अलग-अलग वर्ग के मुताबिक डिजाइन करती है। यही वजह है कि लोग इन पॉलिसी में निवेश करना ज्यादा फायदेमंद समझते हैं।

आज हम आपको एलआईसी की एक ऐसी पॉलिसी के बार में बताएंगे जिसमें आप अगर रोजाना 56 रुपये का निवेश करेंगे तो आपको 23 लाख से ज्यादा रुपये हासिल हो सकते हैं। इस पॉलिसी का नाम जीवन उमंग है। इस योजना में पॉलिसीधारक को 100 वर्ष की आयु तक कवर मिलता है। मैच्यूरिटी या फिर पॉलिसीहोल्डर की मौत पर उसके परिजन को एकमुश्त राशि दे दी जाती है। 90 दिन से लेकर 55 साल तक के उम्र लोग इसमें निवेश कर सकते हैं। प्रीमियम पेइंग टर्म यानी पीपीटी 15, 20, 25 और 30 वर्ष के लिए निर्धारित है।

Also Read:
1 -LIC जीवन शांति पॉलिसी में एकमुश्त निवेश कर पा सकते हैं हर महीने 4 लाख रुपये पेंशन, जीवनभर मिलता रहेगा फायदा
2 -LIC Jeevan Labh पॉलिसी में रोजाना 280 रुपये का निवेश कर, पाएं 20 लाख, जानें क्या है ये पूरा प्लान

——————————————————————————————————

इस पॉलिसी की सबसे बड़ी खासियत है कि अगर इसमें प्रीमियम के खत्म होने तक सारी किस्त चुका दी गईं हैं, तो पॉलिसीधार को गारंटी के साथ न्यूनतम राशि दी जाएगी। तो आपको जीवन बीमा का 8 फीसदी रिटर्न जीवन भर के लिए हर साल मिलता है। इस पॉलिसी में छोटा से निवेश करने पर जिंदगी भर पैसा मिलता है। यानि कि सारी किस्त चुकाने के बाद भी फायदा मिलता रहेगा। अब सवाल यह है कि इस पॉलिसी में 56 रुपये का यह निवेश कब तक करना होगा और 23 लाख रुपये से ज्यादा की रकम पॉलिसीधारक को कब हासिल होगी? इसे हम एक उदाहरण से समझने की कोशिश करते हैं।

उम्र: 43
टर्म: 56
पीपीटी: 15
एडी और डीएबी: 250000
डेथ सम एश्योर्ड: 250000
बेसिक सम एश्योर्ड: 250000

फर्स्ट ईयर प्रीमियम 4.5% टैक्स के साथ

वार्षिक: 20925 (20024 + 901)
अर्धवार्षिक: 10567 (10112 + 455)
त्रैमासिक: 5336 (5106 + 230)
मासिक: 1779 (1702 + 77)
वाईएलवी मोड एवरेज प्रीमियम/प्रतिदिन: 57

फर्स्ट ईयर प्रीमियम के बाद 2.25% टैक्स के साथ

वार्षिक: 20475 (20024 + 451)
अर्धवार्षिक: 10340 (10112 + 228)
त्रैमासिक: 5221 (5106 + 115)
मासिक: 1740 (1702 + 38)
वाईएलवी मोड एवरेज प्रीमियम/प्रतिदिन: 56

कुल अनुमानित देय प्रीमियम: 3,07,575

अनुमानित रिटर्न 58 से 100 वर्ष की आयु तक या जीवन भर जीवित रहने तक: 20,000 रुपये

100 वर्ष की आयु जीवित रहने तक अनुमानित रिटर्न

एसए: 25,00,00
कुल बोनस: 21,37,500
100 वर्ष की आयु तक अनुमानित रिटर्न: 23,87,500

मान लीजिए कोई व्यक्ति जिसकी उम्र 43 वर्ष है और वह 15 साल के प्रीमियम पेइंग टर्म प्लान (56 साल टर्म) विकल्प को चुनता है तो उसे कुल 30,7,575 का प्रीमियम भरना होगा। इस टाइम पीरियड के दौरान रोजाना 56 रुपये निवेश पर पॉलिसीधारक को कुल 23,87,500 रुपये अनुमानित रिटर्न मिलेगा। 15 साल तक प्रीमियम भरने के बाद16वें साल यानि की 58 की उम्र से इस रकम का 8 फीसदी रिटर्न जीवन भर के लिए हर साल मिलता रहेगा जो कि सालाना 20,000 रुपये होगा।

आधार स्तंभ पॉलिसी LIC OF INDIA में रोजाना 43 रुपये का निवेश कर पाएं 3 लाख 60 हजार, जानें पूरी प्लान

लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एलआईसी) देश की सबसे भरोसेमंद बीमा कंपनियों में से एक मानी जाती है। इस कंपनी पर निवेशकों का भरोसा इसलिए है क्योंकि यह सरकार द्वारा संचालित कंपनी है। एक और खास वजह यह है कि इस कंपनी की अलग-अलग पॉलिसी को कुछ इस तरह से डिजाइन किया जाता है कि अमीर से लेकर गरीब तक इसमें निवेश कर सकता है।

एलआईसी ग्राहकों टर्म पॉलिसी, एंडोमेंट, पेंशन लाइफ इंश्योरेंस आदि पॉलिसी बेचती है। आज हम आपको एलआईसी की एक ऐसी पॉलिसी के बारे में बताने जा रहे हैं जिसमें आप रोजाना 43 रुपये का निवेश करके 3 लाख 60 हजार रुपये पा सकते हैं। इस पॉलिसी का नाम आधार स्तंभ है। यह नॉन-लिंक्ड, नियमित प्रीमियम भुगतान के साथ लाभ देने वाली एंडॉमेंट पॉलिसी है।

Also Read:
1 -LIC जीवन शांति पॉलिसी में एकमुश्त निवेश कर पा सकते हैं हर महीने 4 लाख रुपये पेंशन, जीवनभर मिलता रहेगा फायदा
2 -LIC Jeevan Labh पॉलिसी में रोजाना 280 रुपये का निवेश कर, पाएं 20 लाख, जानें क्या है ये पूरा प्लान
——————————————————————————————————

इस पॉलिसी में निवेश करने के बाद ग्राहक को बचत और सुरक्षा दोनों हासिल होती है। यह विशेषकर पुरुष पॉलिसी धारकों के लिए है जिनके पास यूआईडीएआई द्वारा जारी आधार कार्ड हैं। 8 से 55 साल के व्यक्ति इस पॉलिसी में निवेश के लिए पात्र हैं। पॉलिसी के लिए न्यूनतम अवधि 10 और अधिकतम 20 साल है। न्यूनतम सम एश्योर्ड 75 हजार रुपये तो अधिकतम 3 लाख रुपये है। अब सवाल यह है कि कोई ग्राहक रोजाना 43 रुपये का निवेश कर इस पॉलिसी के जरिए 3 लाख 60 हजार रुपये पा सकता है? इसे हम एक उदाहरण से समझने की कोशिश करेंगे।

उम्र: 27
टर्म: 15
डीएबी: 300000
सम एश्योर्ड: 300000
बेसिक सम एश्योर्ड: 300000

फर्स्ट ईयर प्रीमियम 4.5 फीसदी टैक्स के साथ –

वार्षिक: 16150 (15455 + 695)
अर्धवार्षिक: 8160 (7809 + 351)
त्रैमासिक: 4123 (3945 + 178)
मंथली: 1374 (1315 + 59)
वाईएलवाई मोड औसत प्रीमियम/प्रतिदिन: 44

फर्स्ट ईयर प्रीमियम भरने के बाद घटे हुए टैक्स के साथ –

वार्षिक: 15803 (15455 + 348)
अर्धवार्षिक: 7985 (7809 + 176)
त्रैमासिक: 4034 (3945 + 89)
मंथली: 1345 (1315 + 30)
वाईएलवाई मोड औसत प्रीमियम/प्रतिदिन: 43

कुल अनुमानित देय प्रीमियम: 237392

रुपये मैच्योरिटी पर अनुमानित रिटर्न:

एसए : 60000
एलए (लॉयल्टी एडिसन्स): 97500
मैच्योरिटी के समय कुल अनुमानित रिटर्न: 360000

उदाहरण: अगर कोई अभिभावक अपने 27 साल का व्यक्ति यह प्लान लेता है तो उसे रोजाना 43 रुपये 15 साल के लिए भरने होंगे। इस तरह पॉलिसीधारक को कुल 237392 रुपये का प्रीमियम भरना होगा। इसके बदले में उसे Rs.3,60,000 रुपये मिलेंगे।

हर महीने 4 लाख रुपये पेंशन LIC OF INDIA- जीवन शांति पॉलिसी में एकमुश्त निवेश कर पा सकते हैं , जीवनभर मिलता रहेगा फायदा

LIC Jeevan Shanti Pension Policy: लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एलआईसी) देश की सबसे भरोसेमंद बीमा कंपनियों से एक है। इस कंपनी की पॉलिसी में करोड़ों लोगों ने निवेश किया हुआ है। लोगों का यह भरोसा इसलिए भी है क्योंकि यह सरकार द्वारा संचालित है। ऐसे में लोगों को इस बात की चिंता नहीं रहती कि उनकी मेहनत की मोटी और गाढ़ी कमाई कहीं डूब तो नहीं जाएगी।

यूं तो एलआईसी की अलग-अलग पॉलिसी हैं जिसमें एंडोमेंट, टर्म, हेल्थ, लाइफ इंश्योरेंस चाइल्ड प्लान आदि शामिल हैं। एलआईसी की पेंशन पॉलिसी भी है जो कि काफी पॉपुलर है। अक्सर नौकरीपेशा लोगों को यह चिंता सताए रखती है कि नौकरी के बाद पेंशन की व्यवस्था कैसे होगी। वहीं रिटायरमेंट के कगार पर पहुंचे चुके लोगों के मन में तो यह चिंता सबसे ज्यादा होती है।

इन्हीं चिंताओं को ध्यान में रखते हुए एलआईसी ने जीवन शांति पॉलिसी डिजाइन की है। इसमें निवेश कर ग्राहक तुरंत पेंशन का लाभ ले सकते हैं वहीं चाहे तो बाद में भी पेंशन का सुख भोग सकते हैं। इस पॉलिसी की सबसे बड़ी खासियत ही यही है।

आप एक सिंगल प्रीमियम की पेमेंट कर आजीवन निश्चित अंतराल पर एक नियमित रकम (पेंशन) पा सकते हैं। निवेश करते वक्त ग्राहकों के पास पेंशन को चुनने के दो विकल्प मौजूद होते हैं। जिसमें पहला इमीडिएट और दूसरा डेफ्फर्ड एन्युटी है। इमीडिएट का मतलब है कि निवेश के तुरंत बाद पेंशन तो वहीं डेफ्फर्ड एन्युटी का मतलब है कुछ समय (5, 10, 15, 20 साल) बाद पेंशन का भुगतान।

Also Read:
1 -LIC आधार स्तंभ पॉलिसी में रोजाना 43 रुपये का निवेश कर पाएं 3 लाख 60 हजार, जानें पूरी प्लान
2 -LIC Jeevan Labh पॉलिसी में रोजाना 280 रुपये का निवेश कर, पाएं 20 लाख, जानें क्या है ये पूरा प्लान
—————————————————————————————————

बात करें इस पॉलिसी की शर्तों की तो इसमें न्यूनतम सम एश्योर्ड डेढ़ लाख रुपये तो वहीं अधिकतम की कोई सीमा नहीं है। लोन, पेंशन शुरू होने के 1 वर्ष बाद और इसे सरेंडर, पेंशन शुरू होने के 3 महीने बाद किया जा सकता है। न्यूनतम 30 वर्ष और अधिकतम 85 वर्ष तक के व्यक्ति निवेश कर सकते हैं।

इस पॉलिसी में आप हर महीने 4 लाख रुपये तक की पेंशन हासिल कर सकते हैं। एकमुश्त राशि जमा करने के तुरंत बाद आप हर महीने पेंशन पा सकते हैं। अगर आप इस पॉलिसी में एकमुश्त 8 करोड़ रुपये सम एश्योर्ड लेते हैं और इमीडिएट विकल्प को चुनते हैं तो आपको हर महीने 404000 रुपये की पेंशन मिलने लगेगी।

उम्र: 36
सम एश्योर्ड: 80000000
एकमुश्त प्रीमियिम: 81440000

पेंशन:

वार्षिक: 5008000
अर्धवार्षिक: 2460000
तिमाही: 1221000
मासिक: Rs.4,04,000

मान लीजिए अगर कोई 36 साल का व्यक्ति ऑप्शन A यानी Immediate Annuity for life (प्रति महीने पेंशन) को चुनता है। इसके साथ ही वह 80000000 रुपये के सम एश्योर्ड विकल्प को चुनता है। तो उसे 81440000 रुपये के प्रीमियम का एकमुश्त भुगतान करना होगा। इस निवेश के बाद उसे प्रति माह 404000 रुपये की पेंशन मिलेगी। यह पेंशन जब तक पॉलिसीधारक जीवित रहता है तब तक मिलेगी।